उत्तरकाशी:आगामी यमुनोत्री यात्रा पर अभी से मंडराने लगे काले बादल , डबरकोट की पहाड़ी फिर हुई एक्टीब, प्रशासन मौन

उत्तरकाशी:आगामी यमुनोत्री यात्रा पर अभी से मंडराने लगे काले बादल , डबरकोट की पहाड़ी फिर हुई एक्टीब, प्रशासन मौन

सुनील थपलियाल उत्तरकाशी

आगामी यमुनोत्री यात्रा पर अभी से काले बादल मंडराने लगे है , एन एच में ओजरी के पास डबरकोट की पहाड़ी फिर से दरकना शुरू हो गयी है ,आये दिन आवाजाही में दिक्कत आनी शुरू हो गयी है , रविवार को एक बस सहित कई छोटे वाहन घन्टो डबरकोट में फंसे रहे ।3 माह से शांत डबरकोट की पहाड़ी से अचानक चट्टानी मलवा का गिरना शुभ संकेत नही है । शासन प्रशासन की नजर में डबरकोट की पहाड़ी से गिर रहे पत्थरों को बंद करने का ट्रीटमैंट न किये  जाने व स्थाई हल न निकाला जाना आम लोगो की समझ से परे है ।सायद शासन प्रशासन बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है । सरकार ने तीन सदस्यीय टीम भेजकर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा था उसे बीते कई सप्ताह ही नही कई महीने बीत चुके है पर डबरकोट का कोई स्थाई हल नही निकाला जा सका , एन एच के कई एक्सपर्ट भी आये लेकिन कोई ट्रीटमैंट का रास्ता नही दे पाये । रही बात वैकल्पिक मोटर मार्ग की तो वह भी ठंडे बस्ते में पड़ा है ।ऑल बैदर रोड़ का काम जोरो पर है वह भी सिर्फ पालिगाड़ तक ही हो रहा है , डबरकोट की चिंता न तो विभाग कर रहा है और न ही हमारे जिम्मेदार शासन व सरकार में बैठे नुमाईन्दे । यात्रा मार्ग से जुड़े लोग अभी से चिंतित है कि इस बार अगर डबरकोट नाराज रहा तो कौन श्रदालु यमुनोत्री आयेगा , अगर यात्रा पर विराम लगा तो रोजीरोटी का क्या होगा , कई सवाल आज खड़े है इंतजार है अब सवालो के हल होने का । यमुनोत्री धाम के लोग ही नही आम श्रदालु अब माँ यमुना ,अपने इष्टदेव से कामना कर रहे है वह ही यात्रा शुचारु चलाये , सरकार और शासन प्रशासन सहित विभाग कोई स्थाई हल नही निकाल पाया अब ईश्वर ही कोई रास्ता दे ।

  • Ground0

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Is Smoking CBD Oil the Most Practical Method of Consumption?

Is Smoking CBD Oil the Most Practical Method