उत्तरकाशी : जिले के ठेठ लोकनृत्यों के नाम रहा फेस्ट उत्तरकाशी का दूसरा दिन

उत्तरकाशी : जिले के ठेठ लोकनृत्यों के नाम रहा फेस्ट उत्तरकाशी का दूसरा दिन

  • आशीष मिश्रा / उत्तरकाशी
विश्व रंगमंच दिवस 2018 के अवसर पर जिला कार्यालय के प्रेक्षा गृह में फेस्ट उत्तरकाशी कार्यक्रम के दूसरे दिन  सरनौल के कलाकारों द्वारा जोगटा नृत्य की प्रस्तुति दी गयी। जिलाधिकारी डा. आशीष की पहल पर उपजिलाधिकारी भटवाड़ी देवेन्द्र सिंह नेगी, जिला युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भण्डारी, लोक गायक एवं साहित्यकर्मी ओम बधानी व रंगकर्मी सुरेन्द्र पुरी की विगत तीन माह से कार्यक्रम के सफल बनाने के लिए अथक प्रयास किया गया।
जनपद के विभिन्न क्षेत्र की सांस्कृतिक गतिविधियों एवं वेषभूषा का संकलन कर वेबसाइट डिवाईन डांसेस आॅफ उत्तरकाशी तैयार कर जनपद की लोक संस्कृति एवं लोक रंग को लोगों के बीच पहंुचाने में अहम भूमिका अदा की।
इस कार्य के उन्होंने जनपद की विभिन्न क्षेत्रों की लोक संस्कृति एवं वेषभूषा को संकलित करने के लिए मोरी, पुरोला के सुदूरवर्ती क्षेत्रोे में जाकर इसे दर्शकों तक पहंुचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।
वहीं अधिशासी अभिंयता ग्रामीण निर्माण विभाग विभूविश्वमित्र रावत ने भी कार्यक्रम की मंच व्यवस्था एवं साउंड सिस्टम बनाने के में भूमिका निभायी।
वहीं कार्यक्रम के पहल दिन सांय को आयोजित किये गये नाट्क शादी करा दो बाबा एवं कला दर्पण द्वारा आयोजित नाट्क 2020 ने दर्शकों की खूब तालियां बटौरी। जबकि आज कार्यक्रम के दूसरे दिन सरनौल के कलाकारों द्वारा जोगटा नृत्य की प्रस्तुति दी गयी जबकि इसके उपरान्त समाज में व्यप्त भ्रष्टाचार पर कटाक्ष करती लघु फिल्म आप का अमिताभ तथा इसके हाथी स्वांग लोक नृत्य का की प्रस्तुति दी गयी। तत्पश्चात लघु फिल्म माॅ तथा जाने भी दो यारों फीचर फिल्म का प्रदर्शन का प्रदर्शन किया गया।
इस अवसर जिलाधिकारी डा. आशीष चैहान, ददनपाल, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, अपर जिलाधिकारी पीएल शाह, उपजिलाधिकारी देवेन्द्र सिंह नेगी, प्रभारी अधिकारी जिला कार्यालय, जिला युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भण्डारी, मुख्य कृषि अधिकारी महिधर सिं तोमर, अधिशासी अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग विभूविश्वमित्र सहित दर्शक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बागेश्वर : अंतिम संस्कार से घर लौट यात्रियों से भरी कार दुर्घटनाग्रस्त, शिक्षक की मौत, 4 घायल

बागेश्वर अंतिम संस्कार से लौट रही एक आल्टो