ऋषिकेश : २ दिवसीय “रुस्तम जी वाइट रीवर राफ्टिंग चेलेंज’ का आयोजन

ऋषिकेश : २ दिवसीय “रुस्तम जी वाइट रीवर राफ्टिंग चेलेंज’ का आयोजन

संरक्षण  और स्वचछता के प्रति बीएसफ की मुहीम

२ दिवसीय “रुस्तम जी वाइट रीवर राफ्टिंग चेलेंज’ का आयोजन

सीमायों की सुरक्षा के साथ साथ अब गंगा में प्रदूर्शन दूर करेगी बीएसएफ 

  • ऋषिकेश

एक तरफ गंगा के संगरक्षण के लिए सरकार नई नई योजनाएं सामने ला रही है तो वहीँ अब बीएसएफ के जवानों ने भी गंगा को साफ़ और निर्मल बनाने के एक पहल शुरू की है ।

ऋषिकेश में बीएसएफ द्वारा २ दिवसीय रुस्तम जी वाइट रीवर राफ्टिंग चेलेंज कप का आयोजन किया है जिसका उदेश्य है की गंगा को संग्रक्षित किया जाये और उसकी सुद्धता और निर्मलता को बनाया जाये. गंगा में बढ़ते प्रदूषण के प्रति जागरूक करने और स्वछ गंगा अभियान के तहत लोगो को जोड़ने के लिए BSF द्वारा मरीन ड्राइव से लेकर ऋषिकेश तक २०किमे की वाइट वाटर राफ्टिंग चैलेंज कप 2017  का आयोजन किया गया, जिसमे ITBP GMVN, उत्तराखंड स्टेट पुलिस के साथ साथ  8 अन्य टीनो ने हिस्सा लिया ।

इस कार्यक्रम से bsf जवानों ने लोगो को गंगा के प्रति जागरूक करने और सबको स्वछ भारत अभियान से जोड़ने का बेड़ा उठाया है। कार्यक्रम में जवानों के हौसला अफजाई के लिए प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज भी मौजूद रहे है, उन्होंने बताया की बीएसफ की ये मुहीम सराहनीय है, इस तरह के पहल से गंगा संगरक्षण के लिए लोगों को जागरूक किया जा सकता है.  दो दिनों तक इस प्रतियोगिता में BSF के जवानों के साथ साथ स्थानीय लोगों और स्कूली बच्चों ने भी बद चढ़कर हिस्सा लिया, वहीँ कार्यक्रम का सञ्चालन कर रहे BSF के कमांडेंट राजकुमार नेगी का कहना है उनकी इस मुहीम की सुरुवात पिछले साल से हुयी है और इस कार्यक्रम का असल मकसद लोगों को गंगा के प्रति जागरूक करना है। उन्होंने बताया की इस चैम्पियनशिप में पुरे देश की अलग अलग फोर्सेज हिस्सा ले रही है, आज इसमें 13 टीम हिस्सा लेने जा रही है.

मोदी की गंगा के संगरक्षण को लेकर मुहीम रंग लाने लगी है , अब सीमा के रखवाले यानि बीएसएफ के जवान भी इस मुहीम से जुड़ रहे है और गंगा सफाई के लिए लोगों में जनजागरूकता फैला रहे है।

  • GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

केदारनाथ : प्रधानमंत्री पहुँचे धाम, 5 प्रोजेक्ट की रखेगें आधारशिला

 मधुसूदन जोशी / रुद्रप्रयाग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज