पीपलकोटी : अस्पताल देख गदगद हुए सीएम रावत

पीपलकोटी : अस्पताल देख गदगद हुए सीएम रावत

  • कुलबीर बिष्ट/पीपलकोटी

3 मेगावाट उर्गम जल विद्युत परियोजना के लोकापर्ण के लिए आये सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने सेमलडाला पीपलकोटी के स्वामी विवेकानन्द धर्मार्थ चिकित्सालय का भ्रमण किया जिसे देख सूबे के मुख्यमंत्री गदगद हो गयेे।
उर्गम जल विद्युत परियोजना के लोकापर्ण कार्यक्रम के लिए आये मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने लौटते समय सेमलडाला पीपलकोटी के स्वामी विवेकानन्द धर्मार्थ चिकित्सालय का भ्रमण कर कहा कि आने वाले समय में यह अस्पताल स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा इसके साथ ही बण्ड विकास संगठन द्वारा मुख्य मंत्री से सेमलडाला वाली पिटकुल की भूमि को स्वामी विवेकानन्द धर्मार्थ चिकित्सालय व अंग्रेजी माध्यम का 12वीें तक के विद्यालय खोलने के लिए भूमि पिटकुल विभाग से हस्तान्तरित करने के लिए कहा जिसमें मुख्यमंत्री ने सहमति व्यक्त की इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा वार्डों में भर्ती मरीजों का हाल-चाल पूछने के साथ ही मरीजों के साथ आये तिमरदारों से अस्पताल के विषय में पूछताछ की साथ ही उन्होंने कहा कि इस अस्पताल को और भी सुविधायुक्त बनाने का प्रयास करने के साथ ही इस अस्तपाल को टेली मेडिसन व एयर ऐम्बूलेन्स से जोडने का प्रयास किया जोयगा।

इसके अलावा क्षेत्र में पशु चिकित्सालय, गरूडगंगा से मायापुर कौडिया तक पेयजल योजना, लोक निर्माण विभाग के खाली पडे भूमि भवनों को आॅल वेदर रोड के निर्माण करने वाली एनएचडीआईसीएल का कार्यालय खोलने, के अलावा लाॅंजी पोखनी के गामीणों ने पाखी से हयूण-पोखनी-लाॅंजी होते हुए द्वींग तक मोटर मार्ग का निर्माण करने के लिए ज्ञापन दिया। साथ ही बण्ड क्षेत्र के भूतपूर्व सैनिकों द्वारा चलाये जा रहे भर्ती पूर्व प्रशिक्षण में प्रशिक्षार्थियों से मुलाकात कर सेना में भर्ती होने हेतु शुभकामनायें दी।

इस अवसर पर विधायक बद्रीनाथ महेन्द्र भट्ट, बण्ड संगठ के पूर्व अध्यक्ष अतुल शाह, जिपंस देवेन्द्र नेगी, आरएसएस के जिला प्रचारक बृजमोहन, जिलाशिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष कमल किशोर डिमरी, विहिप के जिला मीडिया प्रभारी कुलबीर बिष्ट, अस्पताल व्यवस्थापक रोहन, डाॅ सुशील यादव, प्रेम विश्नोई, भाजपा जिलाध्यक्ष मोहन प्रसाद, सांसद प्रतिनिधि रघुवीर बिष्ट, विधायक प्रतिनिधि मोहन नेगी, हरीश नेगी, भाजयुमों के जिलाध्यक्ष नवल भट्ट, राम कृष्ण रावत, सुखदेव सिंह, विवेक शाह, देवी हटवाल, रोजन्द्र प्रसाद, दीपक पंत, हरीश पुरोहित, क्षेपंस सुनीता शाह, भागीरथी कुंजवाल, ऊषा रावत, शांती राणा, पुष्पा पासवान के अलावा सैकडों कार्यकर्ता मौजूद थे।

  • GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बागेश्वर : अंतिम संस्कार से घर लौट यात्रियों से भरी कार दुर्घटनाग्रस्त, शिक्षक की मौत, 4 घायल

बागेश्वर अंतिम संस्कार से लौट रही एक आल्टो