शहरी विकास के लिए स्वच्छ उत्तरकाशी, सुन्दर उत्तरकाशी की तर्ज पर काम करना होगा : गोपाल रावत

शहरी विकास के लिए स्वच्छ उत्तरकाशी, सुन्दर उत्तरकाशी की तर्ज पर काम करना होगा : गोपाल रावत

  • उत्तरकाशी

जिला सभागार में गंगोत्री विधायक गोपाल सिंह रावत की उपस्थिति एवं जिलाधिकारी डा. आषीश कुमार की अध्यक्षता में नगरीय क्षेत्र बाड़ाहाट के समग्र विकास हेतु सुझाव को लेकर समीक्षा की गई।

जिसमें नगर क्षेत्र के विभिन्न बुद्विजीवियों एवं वरिश्ठ नागरिकों ने प्रतिभाग कर अपने-अपने सुझाव दिये। जिलाधिकारी ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा किये जा रहे सराहनीय कार्यों एवं सहयोग के धयन्वाद देते हुए कहा कि आज प्रातः ही जिले में स्वच्छता मिषन  में चल रहे जनजागरूकता/ मोबाइल प्रतियोगिता में अपना पुनः सहयोग देते हुए उन्होंने कहा जब तक स्वच्छता के प्रति लोग पूर्णरूप से जागरूक नही होते वे जिलाधिकारी द्वारा चलाये गये इस मुहीम में संकल्प के साथ जुड़े रहेंगे। षहर को एकरूपता देने के लिए आम लोगों से मांगे रंग का सुझाव।

इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक गोपाल सिंह रावत ने सुझाव देते हुए कहा कि षहर की सफाई व्यवस्था को दृश्टिगत रखते हुए नगर पालिका वार्ड समिति गठित किया जाय, जिसमें कम से कम 10-11 लोगों सदस्यत हों, उन्होने कहा कि सभी समिति को राजनीति से बाहर आकर स्वच्छता के प्रति अपनी को षौच विकसित करना होगा, उनके द्वारा स्वच्छता के प्रति जनजागरूक अभियान चलाये जाये जिससे स्वच्छता के प्रति लोगो में वातावरण बन सके। कहा कि स्वच्छत उत्तरकाषी, सुन्दर उत्तरकाषी की तर्ज पर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि षहर में विभिन्न चैराहों एवं रास्तों पर सीसीटीवी कैमरा लगाया जाय, जिससे असामाजिक तत्वों एवं नषे में संलिप्त लोगों की निगरानी की जा सके, साथ ही षहर में आने वाले यात्रि एवं पर्यटकों को सुगमता मिल सके। उन्होंने कहा कि विष्वनाथ चैके का चैड़ीकरण, षहर में मिनी पार्किंग एवं म्यूजियम बनाया जायेगा, जिसके लिए विधायक निधि से 15 लाख देने की बात कही। षहर में होर्डिंग व पोस्ट लगाने के लिए स्थान को चिहिन्त करें जहां पर होर्डिंग एवं पोस्टर आदि लगाये जा सके, जिससे षहरों की अन्य दिवारों पर पोस्टर आदि चस्पा न हो।

जिलाधिकारी ने षहर की व्यवस्था, स्वच्छता एवं पर्यटन व्यवसाय के क्षेत्र में किस तरह सुधार लाया जाय जिसको लेकर से सुझाव मांगा। उन्होंने नगरीय क्षेत्र को एक रूपता देने के लिए भवनों एवं निर्माण क्षेत्र को एक-समान रंग अपने घरों में लगाने हेतु आम लोगांें से सुझाव लिये, कहा कि लोग अपने सुझाव जिलाधिकारी को लिखित रूप में भी दे सकते है। उन्होंने षहर की स्वच्छता को लेकर कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में लोग आगे आयें, जिसका उदाहरण अन्य जनपद में दिया जा सके, जिससे आने वाले पर्यटकों को यहां बार-बार आने की लालसा बनी रहे। जिलाधिकारी ने कहा कि षहर के विभिन्न मार्गों के नाम रखने हेतु समिति गठित की जायेगी, जिनके सुझावों से मार्ग आदि का नामकरण किया जा सकें।  उन्होंने षहर में अतिक्रमण की व्यवस्था को दुरूस्थ करने के लिए व्यापार मण्डल से सुझाव लिये, जिस पर व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों ने कहा कि अपने-अपने दुकानों के सीमांकन के बाहर कोई भी व्यवसायी अतिक्रमण या सामान नही रखेगा, साथ ही दुकानों से निकलने वाले कूड़े को नियमित वाहन/डस्टबीन आदि पर डाला जायेगा। जिलाधिकारी ने अधिषासी अधिकारी नगरपालिका को निर्देष दिये कि व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों के साथ नगरपालिका अध्यक्ष की अध्यक्षता में बैठक कर यूजर चार्ज सम्बन्धित मामले को निस्तारित करें। उन्होंने बीआरओ को तांबाखानी से लेकर कैलास आश्रम तक सड़कों से हटाये गये अतिक्रमण वाले स्थानों पर सड़कोे दुरूस्थ कर डामरीकरण करने के निर्देष दिये साथ ही कहा कि मुख्य चैराहे लगा डिस्प्ले को षीघ्र ठीक करें।
नगर पालिका अध्यक्ष जयेन्द्री राणा ने कहा कि नगर की स्वच्छता को लेकर नगरपालिका के साथ-साथ आम जनमानस का भी दायित्व है कि घरों से निकलने वाले कूड़े को निस्तारण हेतु सही स्थान तक पहुचाना है। कहा कि कूड़े को थैलों मंे बांध कर इधर-उधर फेंकने की बजाय कूड़ेदान में डालें, जिससे षहर स्वच्छ एवं सुन्दर रहे।
इस अवसर पर प्रभारी अधिकारी जिला कार्यालय अनुराग आर्य, ओसी बीआरओ एमके कुल्लर, स्वजल अधिकारी राकेष जखमोला, उद्यान अधिकारी राकेष तेवतिया, सामाजिक कार्यकर्ता नागेन्द्र थपलियाल, व्यापार मण्डल अध्यक्ष सुभाश बडोनी, राजेन्द्र पांवार, महावीर भट्ट, अरविन्द उनियाल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सुप्रभात : प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश-बर्फबारी, तापमान में भारी गिरावट

  अन्तराष्ट्रीय शीतकालीन पर्यटन केंन्द्र”औली”बर्फ से सराबाेर,पर्यटकाें के