शर्मनाक : दोस्ती का ऐसा उदाहरण कोई सुनना भी नहीं चाहेगा : मौत के मुंह में छोड़ के भागे दोस्त

शर्मनाक : दोस्ती का ऐसा उदाहरण कोई सुनना भी नहीं चाहेगा : मौत के मुंह में छोड़ के भागे दोस्त

- in अन्य
1281
0

 

• रिपोर्टर सुनील सोनकर
मसूरी हाथीपांव रोड कम्पनी गार्डन के पास गुरूवार को सुबह हुए कार एक्सिडंेट में अपनी महिला मित्र को गंभीर हालत में खाई में छोड भागने वाले युवक और युवती को   पकड़ लिया गया है।  उन्हें मासानिक लाॅज से टैक्सी एसोसिएशन के सचिव सुंदर सिंह पंवार और अन्य सदस्यो की सूझभूझ से पकड़ा गया और मसूरी पुलिस के हवाले कर दिया गया।

 

बता दे कि पकडे गए युवक युवती भी गंभीर रूप् से घायल थे ।  उन्होंने घटना  स्थल से भाग कर मसूरी के प्राइवेट अस्पताल में अपना प्राथमिक उपचार कराया उसके बाद वे  प्राइवेट कार से देहरादून  जा रहे थे ।घायल अवस्था में फरार श्रीकांत थापा निवासी देहरादून तथा सरबजीत पुत्री परमजीत निवासी फगवाड़ा पंजाब को पुलिस द्वारा मसूरी मसौनिक लाज बस स्टैंड से पकड कर कोतवाली लाया गया।पुलिस द्वारा पूछताछ में घायल युवक ने अपने आप को फौजी बताया और कहा  िक वह अपनी दोस्त और महिला मित्रों के साथ मसूरी अपना जन्मदिन मनाने के लिये आया था।  वही  हुसेंज गंज स्थित रमा  गेस्ट हाउस कर्मचारी द्वारा पुलिस को बताया गया कि घायल युवक  अक्सर अलग- अलग महिला मित्र को लेकर उनके गेस्ट हाउस आया करता था।

मसूरी कोतवाल भावना कैन्थोला ने बताया श्रीकांत थापा और सरबजीत खाई से स्वंय ही निकल आए थे । जबकि निशा राणा पुत्री कल्पना राणा निवासी करोलबाग दिल्ली जिसका दुर्घटना में दाहिना हाथ कट गया था उसको स्थानीय लोगो की मदद से रेस्क्यू कर अस्पताल पहुचाया गया। पूछताछ में उनके द्वारा बताया गया की वे तीनों अपने दो अन्य साथियों राहुल नेगी निवासी विजय पार्क देहरादून की कार से आयुश थापा पुत्र अशोक थापा निवासी प्रेमनगर के साथ मसूरी घूमने  आए थे ।  सुबह राहुल व आयुश होटल में ही रुके थे ।  उक्त तीनों नशे की हालत में घूमने निकल गए और कंपनी गार्डन के पास कार अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई। पुलिस द्वारा सभी घायलों के परिजनों को सूचित किया गया है। मामले में अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। उन्होने बताया कि घटना से जुडे सभी युवकों और युवतियों के परिजनो को घटना की जानकारी दे दी गई है ।
• TEAM GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़कोट से पांच ने कराया अध्यक्ष के लिए नामांकन

● सुनील थपलियाल बड़कोट। स्थानीय नगर निकाय चुनाव