गंगनानी लैंडस्लाइड : क्यों न साहब लोगों के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कर दिया जाए !

गंगनानी लैंडस्लाइड : क्यों न साहब लोगों के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कर दिया जाए !

- in अन्य
421
0

 

उत्तरकाशी – गंगोत्री मार्ग डबरानी व गंगनानी के बीच एक बार फिर अवरुद्ध हो गया है। भारी लैंडस्लाइड के चलते गंगनानी में मार्ग बंद होने के कारण यहां बड़ी संख्या में कांवड़ समेत चारधाम यात्री फंसे हुए हैं। गंगनानी में पिछले 4 सालों से लगातार भू स्खलन हो रहा है। 2016 में भी सैकड़ों की संख्या में चारधाम और कांवड़ यात्री वाहनों समेत इस स्थान पर हप्ते भर तक फंसे रहे। लेकिन, प्रशासन से लेकर शासन तक किसी ने भी इस बात से सबक नहीं लिया।

महज बीआरओ के भरोसे गंगनानी लैंडस्लाइड को छोड़ दिया गया। बीआरओ ने भी कामचलाऊ तौर पर यहां करोड़ों रुपए लागत की दीवार तो लगाई, लेकिन बिना किसी तकनीकी विचार विमर्श के लगाई गई यह दीवार आखिर कब तक टिकती। नतीजा, लैंडस्लाइड शुरू होते ही करोड़ो का यह काम, साल भर की मेहनत, पानी-पानी हो गई।

शासन प्रशासन और बीआरओ की यह अदूरदर्शिता आम आदमी और चारधाम यात्रियों पर भारी पड़ रही है। इतना जरूर है कि नेताओं के लिए गंगनानी लैंडस्लाइड लॉटरी खुलने से कम नहीं। क्योंकि, अब नेताजी दौरा करेंगे, मार्ग बंद होने के कारण, और लैंडस्लाइड की जद में गांव के गांव आने के कारण वर्तमान नेताजी पहले वाले नेताजी को दोषी ठहराते हुए लोगों की भावनाओं से खेलेंगे । फिर दावे होंगे, वायदे होंगे। और फिर ….अगले साल नेताजी बदल चुके होंगे, लेकिन भू स्खलन का क्या….वो तो तब भी हो रहा था और आज भी हो रहा है….और 5 साल बाद जब फिर अगले वाले नेताजी आएंगे तब भी हो रहा होगा।

क्यों न ऐसा हो जाए कि जनता को हर बार टोपी पहनाने, सबकुछ जानते हुए भी मामले का संज्ञान न लेने और आम जनता को हर साल गुमराह करने के आरोप में साहब लोगों के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कर दिया जाए ।

• TEAM GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सरोट-चापड़ा मोटरमार्ग पर यातायात बहाल ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

  • विजय खंडूड़ी, टिहरी टिहरी जनपद के