माघ मेला : रंगारंग आगाज, भव्य गंगा आरती ने लगाए चार चांद

माघ मेला : रंगारंग आगाज, भव्य गंगा आरती ने लगाए चार चांद

  • आशीष मिश्रा / उत्तरकाशी

जनपद का  प्रसिद्ध पौरााणिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक माघ मेला(बाड़ाहाट का थौलू) -2017 मकर संक्राति के पुण्य पर्व पर प्रारम्भ हो गया है। 14 जनवरी से 21 जनवरी तक चलने वाला 8 दिवसीय माघ मेले का कण्डार देवता और हरिमहाराज देवता की डोलियों की मौजूदगी में अपर मुख्य सचिव डा0 रणवीर सिंह ने शुभारंभ किया ।

माघ मेले का शुभारंभ करते एसीएस डा. रणवीर सिंह
माघ मेले का शुभारंभ करते एसीएस डा. रणवीर सिंह

इसके उपरान्त उन्होने फुड फैस्टिवल पहाड़ी व्यंजन का उदघाटन कर परिसर में लगे विभिन्न स्टालों का निरीक्षण किया। अपर मुख्य सचिव डा0 सिंह ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पहली बार उत्तरकाशी आने का सौभाग्य मिला है। कहा कि पर्वतीय आंचल में पहाड़ की संस्कृति की झलक देखने को मिली जो देश की एकता व अखण्डता का प्रतीक है। मेले में छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की बेहतरीन प्रस्तुती पर अध्यापकों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसी बेहतर प्रर्दशन उन्हें कहीं देखने को नहीं मिला है। 

देर शाम हुई गंगा आरती का एक दृश्य
देर शाम हुई गंगा आरती का एक दृश्य
इससे पूर्व जिलाधिकारी आशिष कुमार श्रीवास्तव ने अपर मुख्य सचिव  को शाॅल एवं स्मृति चिन्ह भेंट देकर सम्मानित किया। जिलाधिकारी डा0 श्री श्रीवास्तव ने  कहा कि बाड़ाहाट का माघ मेला (थौलू) जनपद का सबसे बड़ा त्यौहार है। उन्होंने कहा कि माघ मेला टूरिज्म से भी जुड़े इसके लिए पूर्ण प्रयास किये जायेंगे। साथ ही माघ मेले  के माध्यम से लोगों की आजीविका बढ़े ,इसके लिए भी लगातार कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा कि निश्चित तौर पर पौराणिक माघ मेले देखने पर्यटक आयेंगे और यहां के स्थानीय लोगों को इसका लाभ मिलेगा।
मेले के दौरान मंचासीन अतिथि
मेले के दौरान मंचासीन अतिथि

 उन्होंने लोगों से अपील की कि वे 15 फरवरी को सभी अपना मतदान करेंगे बिना किसी के दबाव के तथा जनपद को बोटिंग प्रतिशत में अव्वल रखेंगे।

इस दौरान परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद महाराज मुनि, दीपा रणवीर सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा, पुलिस अधीक्षक ददनपाल, मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह राणा, अपर जिलाधिकारी पी.एल.शाह,डीएफओ संदीप कुमार,उप जिलाधिकारी भटवाड़ी निकिता खण्डेलवाल, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत धर्मेन्द्र सिंह रावत सहित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।
  • GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जोशीमठ : कलयुग के पारिजात अमर कल्प वृक्ष को हुए 2500 साल

संजय कुंवर / जोशीमठ कल्प बृक्ष एक प्राचीन