मसूरी में पहला रेशम विक्रय केन्द्र खुला

मसूरी में पहला रेशम विक्रय केन्द्र खुला

- in अन्य
47
0

 

•रिपोर्टर सुनील सोनकर    
उत्तराखंड कॅापरेटिव रेशम फेडरेशन के द्वारा उत्तराखण्ड का प्रथम रेशम एवं मिश्रित रेशमी वस्त्रों के विक्रय केंद्र मसूरी में होटल गढ़वाल टैरेस माल रोड के कैम्पस में खोला गया। जिसका शुभारम्भभरभ उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत और मसूरी विधायक गणेश जोशी ने सयुक्त रूप से किया। इस मौके पर रेशम फेडरेशन के अध्यक्ष धनश्याम षर्मा और उपाध्यक्ष अब्दुल रज्जाक ने उच्च शिक्षा मंत्री का फूलो का गुलदस्ता और रेशम से निर्मित शाल भेट का स्वागत किया। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा रेशम उ़द्योग को बढावा देने के लिये लगातार प्रयास कर रही है व प्रदेश के रेशम उत्पादनो को बाजार में आम लोगो की पहुच तक लाने के लिये प्रदेश के विभिन्न प्रमुख शहरो में विक्रय केन्द्र खोले जा रहे है जिसके तहत मसूरी में उत्तराखण्ड का पहला रेशम विक्रय केन्द्र खोला गया है। जहा आम लोगो के साथ पर्यटक  कम दरो पर रेशम के विभिन्न उत्पाद खरीद सकेगे।

उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा उत्तराखंड कॅापरेटिव रेशम फेडरेशन के सहयोग से रेशम उत्पादको को आम जनता तक ले जाने में सफल हो गई है उन्होने कहा कि उनकी सरकार से पहले उत्तराखंड कॅापरेटिव रेशम फेडरेशन को कोई नही जानता था परन्तु आज आम लोग इसको जानने लगे है। उन्होने कहा कि रेशम के उत्पादको का पहला विक्रय केन्द्र मसूरी खुल गया है अब प्रदेश के अन्य शहरो में भी खोला जायेगा। उन्होने बताया कि रेशम से बने उत्पाद शुद्ध स्वदेशी है और रेशम उद्योग में उत्तराखण्ड और प्रदेशो से अग्रणीय राज्य में से है । उन्होने कहा कि वर्तमान में रेशम उद्योग से करीब तीन हजार महिलाये जुडी हुई है जिसको भविश्य में दस हजार महिलोओं तक ले जाने का प्रदेश सरकार का लक्ष्य है। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार पलायन और रोजगार की गंभीर समस्याओं से जुझ रहा है जिसको देखते हुए सरकार विभिन्न साधनो से इस समस्या से निराकरण करने का प्रयास कर रही है।

TEAM GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

किसानों के चेहरे की रौनक छीन रही बेमौसम बारिश

• नीरज उत्तराखंडी पुरोला। बीते शुक्रवार से हो